मरे हुए व्यक्ति को भी जीवित कर देता है यह शिवलिंग - Yahan marne ke baad aadmi jivit ho jata hai

मरे हुए व्यक्ति को भी जीवित कर देता है यह शिवलिंग - Yahan marne ke baad aadmi jivit ho jata hai.

वैसे तो भारत है ही चमत्कारों वाला देश, कब, कहाँ और क्या चमत्कार हो जाएँ कुछ नहीं कहा जा सकता है क्योंकि यहाँ आए दिन हर जगह अनेकों चमत्कार होते रहते हैं परन्तु आज यदि मैं हम आपसे कहूँ कि मृत्यु के बाद भी लोग जीवित हो सकते हैं तो आप इसे मजाक ही समझेंगे और आपको ये अन्धविश्वास से ज्यादा और कुछ नहीं लगेगा लेकिन हकीकत यह एक सत्य बात है, भारत में एक स्थान ऐसा है जहां अगर किसी व्यक्ति के शव को लेकर जाया जाए तो उसकी आत्मा उस शव में पुन: प्रवेश कर जाती है।


यह हम सभी जानते हैं जन्म और मृत्यु अटल सत्य हैं। कहते हंन आत्मा एक बार जिस शरीर को छोड़ देती है, उसमें पुन: प्रवेश नहीं करती। लेकिन ईश्वर के चमत्कार के आगे प्रकृति को भी झुकना ही पड़ता है। जी हाँ आज हम आपको एक ऐसे शिवलिंग के बारे में बता रहे हैं जंहा जाने पर मृत व्यक्ति भी जीवित हो जाता है।

प्रकृति की वादियों में बसा यह गांव देहरादून से 128 किलोमीटर की दूरी पर स्थित लाखामंडल नामक स्थान यमुना नदी की तट पर बर्नीगाड़ नामक जगह से सिर्फ 4 -5  किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। ऐसी मान्यता है कि मंदिर में अगर किसी शव को द्वारपालों के सामने रखकर मंदिर के पुजारी उस पर पवित्र जल छिड़कें तो वह मृत व्यक्ति कुछ समय के लिए पुन: जीवित हो उठता है।

जीवित होने के बाद वह भगवान का नाम लेता है और उसे गंगाजल प्रदान किया जाता है। गंगाजल ग्रहण करते ही उसकी आत्मा फिर से शरीर त्यागकर चली जाती है। लेकिन इस बात का रहस्य क्या है यह आज तक कोई नहीं जान पाया है। इस मंदिर के पीछे दो द्वारपाल स्थित हैं, जिनमें से एक का हाथ कटा हुआ है। अब ऐसा क्यों हैं यह बात आजतक एक रहस्य ही बना हुआ है।

No comments:

Post a Comment

Recomended for You

loading...