बच्चों को ये विडियो गेम नहीं खेलने चाहिए - Bachchen ye video game na khelen

बच्चों को ये विडियो गेम नहीं खेलने चाहिए - Bachchen ye video game na khelen - आज विडियो गेम खेलना बच्चों का शौक बन गया है. ये आधुनिक टेकनॉलजी से बनाया गया ऐसा मनोरंजन है जिसका उपयोग नए ज़माने के बच्चों द्वारा बहुत अधिक किया जाता है. विडियो गेम बोरियत दूर करता है और काबिलीयत में निखार भी लाता है.


यदि आपके बच्चें विडियो गेम खेलते है तो इसमें कोई बुराई नहीं है. बच्चों के विडियो गेम खलने के समय पर अवश्य ही कण्ट्रोल रखना चाहिए. अपने बच्चें को एक दिन में एक घंटे से ज्यादा गेम ना खेलने दे. हम यहाँ इतना जरुर कहना चाहेंगें की बच्चों को सभी विडियो गेम नहीं खेलने चाहिए. बच्चों को कौन से विडियो गेम खेलने चाहिए और कौन से नहीं इसका फैसला उनके माता-पिता को ही करना चाहिए.

बच्चों के विडियो गेम का चुनाव निम्नलिखित बातों के आधार पर करना चाहिए:-
  1. विडियो गेम ऐसे होने चाहिए जो मज़ेदार भी हों और नैतिक मूल्यों के मुताबिक सही भी हों.
  2. ऐसे गेम नहीं खेलने दे जो खुल्लम-खुल्ला अनैतिक काम करने और गाली-गलौज करने पर आधारित हों.
  3. विडियो गेम भूतविद्या पर आधारित नहीं होने चाहिए.
  4. ड्रग्स, शराब या किसी अन्य नशे पर आधारित गेम ना खेलने दें.
  5. अश्‍लील, खून - खराबा और मार - काट वाले गेम ना खेलने दें.
  6. गेम नाइट क्लब, सैक्स और वेश्यावृत्ति वाले ना हो.
  7. चोरी, धोखा - धड़ी, लुट - पाट आदि वाले गेम ना खेलने दें.
हमें ये बात कभी नहीं भूलनी चाहिए कि बच्चों पर टी.वी. से ज़्यादा विडियो गेम का असर होता है. इसलिए बच्चों को हमेशा ऐसे गेम खेलने की अनुमति दे जिनसे बच्चों के मानसिक विकास के साथ ही बच्चों में अच्छे संस्कार भी पैदा हो सकें. ऐसे गेम कभी भी ना खेलने दें जो बच्चों को बुरी आदतों की तरफ ले जाएँ.