आइये जाने मैदा किससे और कैसे बनता है Aaiye jaane maida kise aur kaise banta hai

बहुत कम लोगों को पता है कि मैदा गेहूँ से ही बनता है, उसी गेहूं से जिससे आटा भी बनता है। गेहूं से मैदा बनाने के लिए अलग तरह का मील होता है, जिसे मैदा मील कहते है। मैदा बनाने के लिए पहले गेहूं को अच्छी तरह साफ किया जाता है। साफ और सूखी गेहूँ मैदा बनने के लिए तैयार होती है।

 

मैदा मिल में सबसे पहले गेहूं की ऊपरी परत निकाली जाती है। इस चरण में मैदा मील में सभी गेहूं के दाने की ऊपरी परत निकलकर अलग हो जाती है। 

ध्यान देने वाली बात यह है कि गेहूं के ज्यादातर पोषक तत्व और प्रोटीन ऊपरी परत में ही होता है, जो कि मैदा बनाने की प्रक्रिया में निकल जाता है।

ऊपरी परत निकलने के बाद गेहूं का बीच वाला हिस्सा ही बचा रहता है, यह पूरी तरह सफेद होता है। ऊपरी परत निकालने की प्रक्रिया में गेहूं मोटे टुकड़ों में टूट जाते है। इससे भूसी निकाल दिया जाता है और बचा हुआ कण सूजी कहलाता है।

अंतिम चरण में गेहूं के इसी कण की अच्छी तरह पीसाई की जाती है और वह पाउडर के फार्म में आ जाता है। यही पाउडर मैदा कहलाता है।

Post a Comment