ये है इंटरनेट पर होने वाले प्यार की सच्चाई Ye hai internet par hone vale pyar ki sachchai

इंटरनेट पर चैटिंग कर चुके ये दो पात्र अब एक-दूसरे के बहुत करीब आ चुके थे। रमोला को लगा कि हारुन एक ऐसा व्यक्ति है जिसकी मानसिकता विकृत नहीं और उस पर भरोसा किया जा सकता है। इसलिए रमोला को उससे सच्चा प्यार हो गया।


इस कहानी में रमोला नामक इस महिला की वास्तविक भूमिका कुछ ऐसी है जो आधुनिक भारतीय नारी का एक अलग ही चेहरा पेश करती है। यह वह आधुनिक महिला है जिसकी अपनी आकांक्षाएं हैं, शायद भोग और विलासिता की ज्यादा। परिजनों के विरोध के बावजूद भी 24 वर्षीय और अत्यंत खूबसूरत रमोला 42 वर्षीय यशपाल से शादी कर लेती है। दरअसल ऐसा करने के पीछे रमोला का अपना मतलब छुपा था।

रमोला को यशपाल में रुचि नहीं, बल्कि उसकी नजर तो यशपाल की मिल्कियत में थी। जहां उसे हर तरह का ऐशो-आराम मिलने वाला था। दूसरी तरफ बिजनेसमैन यशपाल के लिए भी इस उम्र में इतनी खूबसूरत लड़की मिलना तो चांद का उसके आंगन में उतर आने जैसा ही था। यशपाल से शादी के बाद रमोला ने अपने शौक पूरे करने शुरू कर दिए। 

महंगी शराब-सिगरेट और भरपूर मौज-मस्ती उसकी दिनचर्या बन गए। बड़ी-बड़ी पार्टियों में जाना, युवकों से दोस्ती करने में उसे मजा आने लगा। यशपाल और नौकर-चाकर की गैरहाजिरी में अक्सर उसके घर नए-नए युवकों का आना-जाना था। लेकिन कुछ दिनों बाद रमोला इतनी बिंदास हो गई कि पति की उपस्थिति में भी उसके पुरुष मित्र अक्सर उससे मिलने घर पर आ जाया करते। 

दूसरी तरफ बिजनेसमैन पति अक्सर शहर से दूर रहा करता, इसलिए रमोला को पराए मर्दों से दोस्ती और मौज-मस्ती करने में कोई दिक्कत भी नहीं आती। इधर पति को तो इस बात की खबर नहीं थी लेकिन पड़ोसियों को रमोला की सारी आदतें अच्छी तरह मालूम थीं। रमोला के घर के सामने ही एक और घर था, जहां एक डॉली नाम की लड़की रहती थी। डॉली को भी रमोला आंटी की सारी आदतें मालूम थीं।

शुरुआत में उसे रमोला आंटी का चाल-चलन बिल्कुल पसंद नहीं आया। लेकिन धीरे-धीरे उसे अहसास होने लगा कि रमोला आंटी की लाइफ ही असली लाइफ है। इसलिए रमोला आंटी के संपर्क में आने में उसे ज्यादा देर न लगी। रमोला आंटी ने उसे भी अपनी सारी आदतें अच्छी तरह सिखा दीं। इधर डॉली को भी नेट पर देश-विदेश में लड़कों से चैटिंग करना, अश्लील बातें करना, ब्लू फिल्म देखने का शौक लग गया।

क्योंकि ये सारी बातें तो रमोला आंटी के लिए बहुत ही आम थीं। वह तो नेट पर युवकों से खुलकर अश्लील बातें ही नहीं, बल्कि वेब कैमरे के सामने कपड़े उतारकर वेब सेक्स का भी भरपूर मजा लिया करती थीं। लेकिन डॉली को चैटिंग करते-करते राज नामक एक लड़के से प्यार हो गया। इंटरनेट पर ही उसने राज को अपना सबकुछ मान लिया और पूरी तरह से उसके प्यार में डूब गई।

डॉली तो राज से शादी कर उसके साथ अमेरिका शिफ्ट होने की योजना भी बना चुकी थी। इधर रमोला आंटी भी एक युवक के संपर्क में आ गईं और अश्लील बातों, वेब सेक्स का दौर कभी-कभी पूरी रात चला करता। रमोला का नया दोस्त बने इस व्यक्ति का नाम था हारुन। रमोला और हारुन का भी प्यार परवान चढ़ गया, दोनों कई बार इंटरनेट पर चैटिंग कर चुके ये दो पात्र अब एक-दूसरे के बहुत करीब आ चुके थे।

रमोला को लगा कि हारुन एक ऐसा व्यक्ति है जिसकी मानसिकता विकृत नहीं और उस पर भरोसा किया जा सकता है। इसलिए रमोला को भी उससे सच्चा प्यार हो गया। एक बार रमोला ने अपने इस नए ब्वॉयफ्रेंड हारुन के बारे में डॉली को भी बताया और कुछ देर बाद उसकी फोटोग्राफ्स भी डॉली को दिखा दी। फोटोग्राफ्स देखते ही डॉली के पैरों के नीचे से जैसे जमीन ही खिसक गई। लेकिन उसने रमोला से इस बारे में कोई बात नहीं की और आंखों में आंसू लिए चुपचाप अपने घर लौट आई।

रोती-रोती डॉली के मन में सिर्फ यही सवाल थे कि क्या यह वही हारुन है, जिसने मुझे अपना नाम राज बताया था और खुद को अमेरिका की एक शिपिंग कंपनी में वाइस कैप्टन। जबकि इसी राज ने रमोला आंटी को अपना नाम हारुन बताया और उनके साथ ही वेब सेक्स भी किया। ऐसे न जानें कितने और नाम होंगे इस लड़के के। तो यही है इंटरनेट की सच्चाई...

आज भी डॉली और रमोला आंटी आमने-सामने रहते हैं। दोनों की मुलाकातें भी होती हैं, लेकिन अब वही रमोला आंटी, जिन्हें डॉली कभी अपना आदर्श मानती थी, आज उन्हीं के लिए उसके मन में क्या जगह बची है, शायद उसे भी नहीं पता।

Post a Comment